Automobile Exports: भारत में वाहनों का एक्सपोर्ट घटा, 2023 में 21% की गिरावट

Automobile Exports: देश से वाहन निर्यात में बीते साल (2023 में) 21 प्रतिशत की गिरावट आई है। वाहन विनिर्माताओं के संगठन सियाम ने यह जानकारी दी। SIAM ने कहा है कि कई विदेशी बाजार मौद्रिक और भूराजनीतिक संकट से जूझ रहे हैं जिससे वाहन निर्यात में गिरावट देखी गई है।

रिपोर्ट के मुताबिक आपको बता दे कि पिछले साल कुल वाहन निर्यात 42,85,809 इकाई रहा, जबकि 2022 में यह आंकड़ा 52,04,966 इकाई था। हालांकि, 2023 में यात्री वाहनों का निर्यात पांच प्रतिशत बढ़कर 6,77,956 इकाई हो गई, जो 2022 में 6,44,842 इकाई थी।

वहीं वाणिज्यिक वाहन, दोपहिया और तिपहिया वाहनों के निर्यात में गिरावट देखी गई है। दोपहिया वाहनों का निर्यात पिछले साल 20 प्रतिशत घटकर 32,43,673 इकाई रह गया, जो 2022 में यह अकड़ा 40,53,254 इकाई था। इसी तरह, वाणिज्यिक वाहनों का निर्यात 88,305 इकाई से घटकर 68,473 इकाई रह गया। तिपहिया वाहनों का निर्यात पिछले साल 4,17,178 इकाई से 30 प्रतिशत घटकर 2,91,919 इकाई रह गया।

SIAM के महानिदेशक राजेश मेनन ने बताया कि 2023 में यात्री वाहन निर्यात को नए वाहनों की पेशकश और दक्षिण अफ्रीका और खाड़ी क्षेत्र जैसे बाजारों की दबी मांग से समर्थन मिला था। चालू वित्त वर्ष में अप्रैल-दिसंबर में मारुति सुजुकी इंडिया (Maruti Suzuki) ने सबसे अधिक 2,02,786 वाहनों का निर्यात किया। यह एक साल पहले की समान अवधि के 1,92,071 इकाई के आंकड़े से छह प्रतिशत अधिक है।

हुंदै मोटर इंडिया (Hyundai Motor) ने इस दौरान 1,29,755 इकाइयों का निर्यात किया, जबकि पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में यह आंकड़ा 1,19,099 इकाई का था। इस अवधि में किआ इंडिया ने 47,792 इकाइयों का निर्यात किया। वहीं फॉक्सवैगन ने 33,872, निसान ने 31,678, और होंडा कार्स ने 20,262 वाहनों का निर्यात किया।

यह भी पढ़ें…

Leave a Comment

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now